Search This Blog

Loading...

Tuesday, 2 July 2013

सोमवती अमावस्या..

सोमवती अमावस्या.. संकटमोचक हैं शिव-हनुमान पूजा के ये सरल उपाय

सोमवार शिव उपासना का शुभ दिन है। इस दिन शिव ही नहीं बल्कि उनके हर अवतार का स्मरण संकटमोचन करता है। श्री हनुमान भी रुद्र अवतार हैं। जिनकी उपासना काल, भय, पीड़ा और रोग निवारण में बेहद असरदार मानी गई है। विशेष तौर पर सोमवार व अमावस्या पर या इन तिथियों के संयोग में शिव व श्री हनुमान की पूजा में कुछ आसान उपाय कठिन परेशानियों और उलझनों से छुटकारा दिलाने में प्रभावी माने गए हैं। जानते हैं यह सरल और प्रचलित उपाय -

- तीर्थ जल से स्नान के बाद शिव मंदिर में शिव का जल से अभिषेक कर सफेद चंदन के साथ एक बिल्वपत्र व पांच सफेद आंकड़े के फूल चढ़ाएं। साथ ही मिठाई, एक मुट्ठी गेंहू और नारियल शिवलिंग के सामने चढ़ाकर शिव मंत्रों जैसे ॐ रुद्राय नम:, ॐ नम: शिवाय या ॐ शंकराय नम: का स्मरण दु:ख शमन की कामना से करें।

- इसी तरह श्री हनुमान को पवित्र जल से स्नान कराकर सिंदूर, चमेली के तेल व चांदी के वर्क से चोला चढ़ाएं। लाल फूलों की माला, पान व जनेऊ चढ़ाकर गुड़ से बने लड्डू या शहद का भोग लगाएं।

- शिव चालीसा व हनुमान चालीसा का पाठ कर शिव-हनुमान की आरती गुग्गल धूप, दीप से करें। शिव स्नान का जल व श्री हनुमान का सिंदूर व प्रसाद ग्रहण करें व बांटे। इन सामान्य पूजा उपायों से पितृदोष, ग्रहदोष और शनिदोष का बुरा असर जीवन व घर-परिवार पर नहीं होता।

No comments:

Post a Comment