Search This Blog

Loading...

Saturday, 16 June 2012

उपाय

पक्षिओं को भोजन डालें , दुर्बल पर उपकार | दींन दुखी की सेवा से , खुश होते करतार || हरी ॐ तत्सत |

रोग मुक्ति का उपाय --ताम्बे के लोटे में गंगा जल भरकर रोगी के उप्पर से ५४ बार घुमाकर, गंगा जल को चोराहे पर डाल दें| यह क्रिया २१ दिन रोज करनी हे | रोगी ठीक होने लगेगा | हरी ॐ तत्सत |

यदि कोई भी हिरदय रोगी हो (heart problem) हो तो ---एक मुखी या १६ मुखी रुद्राक्स लाल धागे में रविवार को धारण करें | रोज आदित्य हिरदय स्त्रोतम का पाठ करें | सूर्य भगवन को नित्य जल चढ़ाएं | ॐ सूर्याय नमह : मन्त्र का मानसिक जाप करते रहें | हरी ॐ तत्सत |

उपाय : यदि कोई काम ना बनता हो तो यह उपाय करें --- शनिवार के दिन बरगद के पेड़ का साफ़ पत्ता लेकर उस पर अपना काम लिखें व् अपनी लम्बाई का ५ गुना कलावा पत्ते पर बाँध कर पानी में प्रवाहित कर दें | ऐसा तब तक करते रहें जब तक काम ना हो जाए , हरी ॐ तत्सत ||

No comments:

Post a Comment