Search This Blog

Loading...

Tuesday, 9 August 2011

शनिदोष मिटाएगें ये उपाय और मंत्र

शनिदोष मिटाएगें ये उपाय और मंत्र

ज्योतिष के अनुसार शनि को क्रूर ग्रह माना गया है। शनि को न्यायाधीश भी माना जाता है। शनिदेव की आराधना का दिन है शनिवार। इस शनिदेव के अशुभ फल को शांत करने एवं शुभ फल को बनाए रखने के लिए विभिन्न पूजन आदि कर्म किए जाते हैं। साथ ही इस दिन के लिए कई नियम भी बनाए गए हैं जिससे शनिदेव का बुरा प्रभाव हम पर न पड़े। इन्हीं नियमों में से एक है । इसी वजह से यह काफी कठोर ग्रह है। इसकी क्रूरता से सभी भलीभांति परिचित हैं। इसी वजह से सभी का प्रयत्न रहता है कि शनि देव किसी भी प्रकार से रुष्ट ना हो। शनि गलत कार्य करने वालों को माफ नहीं करता। जिसका जैसा कार्य होगा उसे शनि वैसा ही फल प्रदान करता है। नीचे लिखे उपाय अपनाकर आप शनि दोष कम कर सकते हैं।
- शिव का पूजन करें, शिवलिंग पर प्रतिदिन जल चढ़ाएं।
- श्री हनुमान की पूजा प्रतिदिन करें।
- काले उड़द, काले तिल, तेल, लोहे के बर्तन आदि, काली गाय, काले कपड़े का दान किसी जरूरतमंद को करें।
- गरीबों को खाना खिलाएं और आवश्यक मदद करें।
- शनिवार का व्रत रखें।
- पीपल की पूजा करें, जल चढ़ाएं एवं परिक्रमा करें। इसके अलावा शनि के प्रभाव को दूर करने के लिए शनिवार के दिन नीचे लिखे मंत्र का जप करने से शनि का अशुभ प्रभाव कम होने लगता है।
ऊं शं शनैश्चराय नम:

No comments:

Post a Comment