Search This Blog

Loading...

Saturday, 16 July 2011

गुरु पूर्णिमा आज: राशि के अनुसार ये उपहार दें गुरु को


आषाढ़ मास की पूर्णिमा को गुरुपूर्णिमा व व्यास पूर्णिमा के रूप में मनाया जाता है। इस दिन गुरु की पूजा कर उनका सम्मान किया जाता है। सभी का कोई न कोई गुरु अवश्य होता है क्योंकि गुरु के बिना ज्ञान असंभव है। इस बार गुरु पूर्णिमा का पर्व 15 जुलाई, शुक्रवार को है। धर्म ग्रंथों के अनुसार यदि किसी इंसान को गुरु बनाने में यदि हिचकचाहट हो तो भगवान विष्णु, शंकर, हनुमान आदि को भी गुरु बनाया जा सकता है।
गुरु के सामने यह न करें-शिष्य को चाहिए की गुरु के आसन एवं शैय्या का प्रयोग खुद नही करें। गुरु के सामने टिक कर न बैठें, उनके सामने पांव फैला कर ना बैठें, उनके सामने अश्लील शब्दों का प्रयोग नही करें आदि बातों का ध्यान रखें।
धर्म शास्त्रों में यह लिखा है कि गुरु के पास कभी खाली हाथ नहीं जाना चाहिए। फल, वस्त्र, अन्न अथवा कोई न कोई उपहार लेकर ही गुरु के पास जाना चाहिए। यहां हम आपको बता रहें कि राशि के अनुसार आप अपने गुरु को क्या उपहार दें। गुरु को राशि के अनुसार उपहार देने से आपको गुरु का आशीर्वाद तो मिलेगा ही साथ ही सुख-समृद्धि भी प्राप्त होगी।
यदि आपकी राशि मेष, कर्क, तुला या मकर है तो आप अपने गुरु को सफेद वस्त्र,चावल, सफेद मिठाई का उपहार दें।
वृषभ, सिंह, वृश्चिक या कुंभ राशि के लोग अपने गुरु को लाल वस्त्र, गेंहू व लाल फल भेंट करें।
मिथुन, कन्या, धनु, मीन राशि वाले यदि अपने गुरु को पीले वस्त्र, चना दाल, या पीले फल भेंट करेंगे तो श्रेष्ठ रहेगा।

No comments:

Post a Comment