Search This Blog

Wednesday, 19 June 2013

शिव महापुराण में लिखा है बिल्व पेड़ है चमत्कारी, जानिए इसके फायदे

जो मनुष्य बिल्व के मूल में लिंगस्वरूप अविनाशी महादेवजी का पूजन करता है वह निश्चय ही शिवपद को प्राप्त होता है। जो गंध, पुष्प आदि से बिल्व के मूल भाग का पूजन करता है है वह शिवलोक को प्राप्त को पाता है।

जो बिल्व की जड़ से समीप दीपक जलाता है वह तत्वज्ञान से सम्पन्न हो जाता है और भगवान महेश्वर में मिल जाता है। बिल्ब की जड़ के समीप भगवान शिव के उपासक को भक्तिपूर्वक भोजन कराता है उसे कोटिगुना पुण्य प्राप्त होता है।

बिल्व की जड़ के समीप शिवभक्त को खीर और घृत युक्त अन्न दान करता है वह कभी दरिद्र नहीं होता। जो बिल्व की शाखा थामकर हाथ से उसके नए-नए पत्ते तोड़ता है तथा उनसे उस बिल्व वृक्ष की पूजा करता है वह सब पापों से मुक्त हो जाता है

No comments:

Post a Comment