Search This Blog

Saturday, 16 June 2012

राशियों का स्वरूप

राशियों का स्वरूप

  • मेष की आकृति छाग अर्थात् बकरे के समान होती है।
  • वृष बैल के आकार का होता है।
  • मिथुन की आकृति युग्मित पुरूष तथा स्त्री जैसा है। स्त्री के हाथ में वीणा और पुरूष के हाथ में गदा है।
  • कर्क का स्वरूप कछुए की तरह है।
  • सिंह की आकृति शेर की तरह है।
  • कन्या का स्वरूप ऐसा है कि नाव में एक कन्या है और उसके हाथ में दीपक है।
  • तुला का स्वरूप बाज़ार में तराजू लेकर कुछ तौलते हुए पुरूष जैसा है।
  • वृश्चिक की आकृति बिच्छू के सदृश है।
  • धनु का स्वरूप हाथ में धनुष लिए हुए ऐसे मनुष्य जैसा है जिसके कमर से नीचे का भाग घोड़े जैसा है।
  • मकर का मुँह(गले से ऊपर का भाग) मृग की तरह और शेष शरीर मकर (मगरमच्छ) की तरह है।
  • कुम्भ की आकृति हाथ में खाली घड़ा लिए मनुष्य जैसी है।
  • मीन दो मछलियों के जोड़े के रूप में है जिसमें दोनों मछलियों की पूँछें एक दूसरे से उलटी दिशा में हैं अर्थात् एक के मुख पर दूसरे का पूँछ है।

No comments:

Post a Comment