Search This Blog

Loading...

Friday, 22 June 2012

कुछ उपाय

ज्योतिष शास्त्र के  कुछ उपाय आप की इस समस्या को हल कर सकतें हैं।
palm house copyयदि आप  अपना घर बनवा रहे हैं तो अपनी कुंडली जरूर देखें। यदि आपकी कुंडली के दसवें घर में केतु हो तो निर्माण से पहले केतु को दान करें। इससे निवास के निर्माण में कोई समस्या नही आएगी और आप वहाँ पर सुखी भी रहेंगे।
भवन निर्माण से पहले अर्चना-पूजन करने के बाद अपने कारीगरों को मिष्ठान अवश्य खिलाएँ। इस उपाय से भी आप अपने घर में सदैव सुखी रहेंगे।
यदि आपकी जन्मकुंडली के ग्यारहवें घर में शनि हो तो आप निर्माण से पहले मुख्य द्वार की चौखट के नीचे चदंन की लकड़ी  अवश्य दबा दें।
यदि शनि  जन्मकुंडली के छठे भाव में हो तो निर्माण से  पहले भूमि पर हवन तथा वास्तु पूजन अवश्य करवाएँ।
यदि जन्मकुंडली में शनि की अशुभ स्थिति हो तो भवन निर्माण से  पहले गोदान अव्शय करें।
यदि शनि जन्मकुंडली के चतुर्थ भाव में हो, तो पैत्रक भूमि अथवा मकान पर निर्माण नहीं करवाना चाहिए।
भवन की नीव भरते समय शहद का एक पात्र, नाग-नागिन का जोड़ा, चांदी की पादुकाएं तथा अभिमंत्रित श्रीयंत्र अवश्य रखना चाहिए। इससे आप अपने निवास में  सदैव सम्रधि की ओर अग्रसर रहेगें।
आप जब भी भवन निर्माण करवाएँ, उसे अधूरा न छोड़ें। जितना आप का बजट हो, उतने में ही निर्माण हो जाएगा।

No comments:

Post a Comment