Search This Blog

Loading...

Wednesday, 9 November 2011

इष्ट देव

अगर आप अपने भाग्य को प्रबल करना चाह्ते हैं और इस दुविधा मे हैं कि किस भगवान या इष्ट देव की आराधना करूँ, तो नीचे लिखी बातें आपकी मदद कर सकती हैं
लग्न     इष्ट देव
मेष –भगवान विष्णु,सूर्य,गायत्री मन्त्र
वृष –भगवान गणपति
मिथुन –माँ पार्वती,माँ दुर्गा,माँ लक्ष्मी,वैभव लक्ष्मी,माँ संतोषी
कर्क –हनुमानजी,हनुमान चालीसा,सुन्दरकान्ड
सिंह –भगवान विष्णु
कन्या –हनुमानजी,हनुमान चालीसा, भैरव,
तुला –हनुमानजी,हनुमान चालीसा,भैरव
वृश्चिक –भगवान विष्णु
धनु –हनुमानजी,हनुमान चालीसा,सुन्दरकान्ड
मकर –माँ पार्वती,माँ दुर्गा,माँ लक्ष्मी,वैभव लक्ष्मी,माँ संतोषी
कुम्भ –भगवान गणपति
मीन –भगवान शिव
 REFERENCE

http://bijay.jagranjunction.com/2010/07/18/%E0%A4%AD%E0%A4%B5%E0%A4%BF%E0%A4%B7%E0%A5%8D%E0%A4%AF%E0%A4%B5%E0%A4%BE%E0%A4%A3%E0%A4%BF%E0%A4%AF%E0%A4%BE%E0%A4%81%E0%A4%95%E0%A5%81%E0%A4%9B-%E0%A4%B5%E0%A4%BF%E0%A4%9A%E0%A4%BE%E0%A4%B0-2/

No comments:

Post a Comment