Search This Blog

Thursday, 4 August 2011

रामायण के पांच रामबाण

 आप स्वभाव से मेहनती है। स्वभाव में आवेग की अधिकता रहती है। बुद्धि विलक्षण है। आप नौकरी में बदलाव का विचार बना सकते हैं। तो जानिए पांच उपाय जो बदल देंगे किस्मत।
ये हैं रामायण के 5 रामबाण। जो 500 सालों से प्रमाणित हैं। कर्ज मुक्ति से लेकर संतान सुख तक, घर की कलह से लेकर ग्रहों के उपाय तक हर काम में मिलेगा राज सुख। 


1-ग्रह बाधा दूर करने के लिए



|| कौन सुकाज कठिन जग माहि | जो नहीं होत तात तुम पाहि ||
2-पुत्र प्राप्ति के लिए
"प्रेम मगन कौसल्या निसिदिन जात न जान।
सुत सनेह बस माता बालचरित कर गान।।
3-कर्ज से मुक्ति के लिए
"जिमि सरिता सागर महुं जाही। जद्यपि ताहि कामना नाहीं।। तिमि सुख संपति बिनहिं बोलाएं। धरमसील पहिं जाहिं सुभाएं।।"
4-सर्व-सुख-प्राप्ति के लिए
सुनहिं बिमुक्त बिरत अरु बिषई। लहहिं भगति गति संपति नई।।
5-कठिन क्लेश नाश के लिए
"हरन कठिन कलि कलुष कलेसू। महामोह निसि दलन दिनेसू॥"

No comments:

Post a Comment