Search This Blog

Loading...

Wednesday, 17 August 2011

नवग्रह






यह देवी का नौ अक्षरी बीज मंत्र है। इस मंत्र के नौ अक्षर नवदुर्गा रूप नौ शक्तियां माने गए हैं। ये नौ शक्तियां ही नवग्रहों में से एक-एक ग्रह की नियंत्रक हैं। ये ग्रह हैं - सूर्य, चन्द्र, मंगल, बुध, गुरु, शुक्र, शनि, राहु और केतु। इसलिए इस मंत्र का जप नवग्रह दोष शांति के लिए बहुत असरदार माना गया है।

यह मंत्र है -

ऐं ह्रीं क्लीं चामुण्डायै विच्चे। 


















































































-

No comments:

Post a Comment