Search This Blog

Friday, 15 July 2011

दिशा शूल



 
          दिशा शूल
दिशा
वार
निवारण हेतु भोग्य
पूर्व
सोमवार
दुध अथवा चंदन
उत्तर
मंगळवार
गुड
उत्तर
बुधवार
तिल,फुल
दक्षिण
गुरुवार
दहीं
पश्चिम
शुक्रवार
जौ,घी
पूर्व
शनिवार
उडद,तिलका तेल
पश्चिम
रविवार
घी,पान
उपर बताये गये दिनमें अगर दिशाशूल में बताई गई दिशामें प्रयाण करे तो व्याधि, संकट उत्पन्न होता है, किन्तु अगर जाना ही पडे तो साथमें लीखी हुई चीज खा कर प्रयाण करे ।

No comments:

Post a Comment