Search This Blog

Friday, 15 July 2011

नवग्रह का जाप

नवग्रह का जाप
सूर्यः- ॐ ह्रीँ रत्नांकसूर्याय सहस्त्रकिरणाय नमः स्वाहा । (लाल रंगकी माला)
चन्द्रः- ॐ रोहिणीपतये चन्द्राय ॐ ह्रीँ द्राँ द्रीँ चन्द्राय नमः स्वाहा ।
       (सफेद रंगकी माला)
मंगलः- ॐ नमो भूमिपुत्राय भूभृकुटिल-नेत्राय वक्रवदनाय द्रः सः मंगलाय नमः स्वाहा ।   (लाल रंगकी माला)
बुधः- ॐ नमो बुधाय श्राँ श्रीँ श्रः द्रः स्वाहा । (पीले रंगकी माला)
गुरुः- ॐ ग्राँ ग्रीँ ग्रूँ बृहस्पतये सुर-पूज्याय नमः स्वाहा । (पीले रंगकी माला)
शुक्रः- ॐ यः अमृताय अमृतवर्षणाय दैत्यगुरवे नमः स्वाहा ।
            (सफेद रंगकी माला)
शनिः- ॐ शनैश्चराय ॐ क्रौँ ह्रीं क्रौँडाय नमः स्वाहा । (काले रंगकी माला)
राहुः- ॐ ह्रीँ ठाँ श्रीँ व्रः व्रः व्रः पिंगलनेत्राय कृष्णरूपाय राहवे नमः स्वाहा ।     (काले रंगकी माला)
केतुः- ॐ काँ कीँ कैँ टः टः टः छत्ररूपाय राहुतनवे केतवे नमः स्वाहा।
      (काले रंगकी माला)
                                       

No comments:

Post a Comment