Search This Blog

Loading...

Saturday, 30 July 2011

राशियों के अनुसार कैसे करें शिव-अभिषेक

अभिषेक से मनोवांछित फल की प्राप्ति


श्रावण में भगवान शिव का नित्य अभिषेक करने से इच्छित वस्तु सुगमता से ही मिल जाती है। इस माह में किए गए अभिषेक से जातकों की कुंडली में कष्ट देने वाले ग्रह भी शुभ फल प्रदान करते हैं। भगवान शिव के अभिषेक की महिमा अपार है। ज्योतिषाचार्य पं. राजकुमार शास्त्री के अनुसार भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए प्रत्येक राशि के जातकों के लिए विधि बताई गई है।

कैसे करें अभिषेक- भगवान सदाशिव को प्रसन्न करने के लिए ज्योतिषाचार्यों के अनुसार शिव के पंचाक्षर मंत्र ॐ नमः शिवाय, लघु रूद्री से अभिषेक करें। शिवजी को बिल्वपत्र, धतूरे का फूल, कनेर का फूल, बेलफल, भांग चढ़ाकर पूजन करें।

मेष- शहद, गु़ड़, गन्ने का रस। लाल पुष्प चढ़ाएं।

वृभ- कच्चे दूध, दही, श्वेत पुष्प।

मिथुन- हरे फलों का रस, मूंग, बिल्वपत्र।

कर्क- कच्चा दूध, मक्खन, मूंग, बिल्वपत्र।

ND
सिंह- शहद, गु़ड़, शुद्ध घी, लाल पुष्प।

कन्या- हरे फलों का रस, बिल्वपत्र, मूंग, हरे व नीले पुष्प।

तुला- दूध, दही, घी, मक्खन, मिश्री।

वृश्चिक- शहद, शुद्ध घी, गु़ड़, बिल्वपत्र, लाल पुष्प।

धनु- शुद्ध घी, शहद, मिश्री, बादाम, पीले पुष्प, पीले फल।

मकर- सरसों का तेल, तिल का तेल, कच्चा दूध, जामुन, नीले पुष्प।

कुंभ- कच्चा दूध, सरसों का तेल, तिल का तेल, नीले पुष्प।

मीन- गन्ने का रस, शहद, बादाम, बिल्वपत्र, पीले पुष्प, पीले फल।

No comments:

Post a Comment