Search This Blog

Loading...

Friday, 9 December 2011

पुत्र या पुत्री का विवाह,

यदि परिवार में योग्य पुत्र या पुत्री का विवाह, प्रयत्न के बाद भी, नहीं हो पा रहा, तो घर में सफेद खरगोश पालना चाहिए और अविवाहित पुत्र, या पुत्री से उसे खाना दिलवाना चाहिए। खरगोश की सेवा उनसे करवानी चाहिए। इससे धीरे-धीरे, विवाह का योग बनने लगता है।
पुरुषों के विवाह में यदि रुकावटें और विलंब हो, तो दोमुखी रुद्राक्ष के पांच दाने लें। एक कटोरी जल में उन्हें पूजा में रखें। धूप, दीप जलाएं। प्रतिदिन तीन माला  'ऊँ पार्वती वल्लवभायु स्वाहा' का जाप करें। यह प्रयोग करीब तीन महीने तक करें। जल पौधें पर चढ़ा दें। तीन महीने की पूजा के पश्चात एक रुद्राक्ष गणेश पर, एक रुद्राक्ष पार्वती पर, एक रुद्राक्ष कार्तिकेय पर, एक रुद्राक्ष नदी को और एक रुद्राक्ष भगवान शिव पर चढ़ा दें। शिवलिंग पर जल चढ़ाए और आराधना करते हुए प्रभु भोलेनाथ से प्रार्थना करें। यह बहुत चमत्कारी टोटका है। अवश्य शीघ्र विवाह के लिए रिश्ते आने लगगें । यह उपाय शुक्ल पक्ष के प्रथम सोमवार से आरंभ करें। रुद्राक्ष की पवित्र माला से जाप करें।

No comments:

Post a Comment