Search This Blog

Friday, 30 September 2011

सुख-समृद्धि के लिए

सुख-समृद्धि के लिए
मंत्र- "ऊं ह्रीं श्रीं क्लीं महालक्ष्मै नम:"
ज्योतिषशास्त्र में यंत्रों का विशेष महत्व बताया गया है। यंत्रों में अद्भुत शक्ति विद्यमान रहती है, कब- जब इन्हें शुभ मुहूर्त में विधि-विधानपूर्वक बनाया गया हो और शास्त्रानुसार इनका पूजन किया जाता हो।
समृद्धि के लिए "बीसा यंत्र" का प्रयोग करना शुभ फलदायी बताया गया है। बीसा यंत्र का निर्माण रवि पुष्य नक्षत्र में भोजपत्र पर अष्टगंध की स्याही से करें। यदि आप चाहें तो इसे चांदी पर भी बनवा सकते हैं। यंत्र की विधिपूर्वक पूजन करने के बाद इसे अपने कैश बॉक्स में रखें। धन-धान्य की वृद्धि होना संभव है।
इस यंत्र का निर्माण यदि आप स्वयं नहीं कर सकते हैं तो किसी विद्वान ज्योतिषी या पंडित से करा लें, पूजन विधि भी पूछ लें।
- नोरतन बाफना

No comments:

Post a Comment