Search This Blog

Loading...

Tuesday, 13 September 2011

ग्रह भगवान

ग्रह भगवान के रूप में पूजे जाते है.

सूर्य को राम और विष्णु के रूप में पूजा जाता है,
 
चन्द्र को शिव के रूप में पूजा जाता है
 
,मंगल के दो रूप होते है,
 
नेक मंगल और बद मंगल 
 
नेक मंगल को हनुमानजी के रूप में पूजा जाता है,
 
बद मंगल को पितर,भूत प्रेत पिशाच के रूप में पूजा जाता है,
 
बुध को दुर्गा के रूप में पूजा जाता है,
 
गुरु को ब्रह्मा के रूप में जाना जाता है
 
,शुक्र को लक्ष्मी के रूप में पूजा जाता है
 
,शनि को भैरों के रूप में पूजा जाता है,
 
राहु को सरस्वती और अल्लाह के रूप में जाना जाता है,
 
केतु को गणेशजी और ईशा मशीह के रूप में पूजा जाता है.

No comments:

Post a Comment