Search This Blog

Loading...

Wednesday, 7 September 2011

ग्रह-बाधा

ग्रह-बाधा-शान्ति मन्त्र

“ॐ ऐं ह्रीं क्लीं दह दह।”

विधि- सोम-प्रदोष से ७ दिन तक, माल-पुआ व कस्तुरी से उक्त मन्त्र से १०८ आहुतियाँ दें। इससे सभी प्रकार की ग्रह-बाधाएँ नष्ट होती है।

No comments:

Post a Comment