Search This Blog

Loading...

Saturday, 6 August 2011

प्रेम विवाह

यदि प्रेम विवाह करना चाहते हैं तो ब्रत एवं दान बहुत सहायक होते हैं

प्रेम प्राप्ति के कुछ अति सरल दिव्य मंत्र

कृष्ण जी का मंत्र -ॐ क्लींकृष्णाय गोपीजन बल्लभाय स्वाहा:

कृष्ण मंदिर में मुरली बांसुरी ले जा कर अर्पित करें

पान अर्पण से प्रेम प्राप्ति होती है


यदि प्रेम में फूट पड़ गयी हो तो उसे पुनह पाने के लिए भैरव जी की पूजा अचूक उपाय है
भैरव देवता को मीठी रोटी का प्रसाद बना कर अर्पित करें
मानसिक तौर से उत्तरनाथ भैरव का मंत्र जपें
भैरव जी का मंत्र-ॐ ज्लौम रहौं क्रोम उत्तरनाथ भैरवाय स्वाहा:

No comments:

Post a Comment