Search This Blog

Tuesday, 5 July 2011

कैसे दूर हो दक्षिण दिशा का दोष व राहु-केतु का प्रकोप


 क्या है वास्तु पर राहु और केतु का प्रकोप? क्या घर में पग-पग पर विघ्न आते हैं? ये सब दक्षिण दिशा के दोष की वजह से हो सकता है। क्या है बिना तोड़ फोड़ के दक्षिण दिशा के उपाय?
बताएंगे पंडित वैभवनाथ शर्मा
- घर में दक्षिण दीवार पर हनुमान जी का लाल रंग का चित्र लगाएं।



- यदि दक्षिणी क्षेत्र बढ़ रहा हो, तो उसे काटकर शेष क्षेत्र को वर्गाकार या आयताकार बनाये।
- यदि दक्षिण में भवन की ऊंचाई के बराबर या उससे अधिक खुला क्षेत्र हो, तो बड़े विशालकाय वृक्ष लगाने चहिये।
- अमस्वाया के दिन संध्याकाल में यमदेव तथा राहु-केतु के निमित्त दारिद्र्यनारायण को अन्न दान करना तथा सरसों के तेल का दीप दक्षिण दिशा में घर के बाहर दान करना लाभ देता है।
- मंगल स्तोत्र व मंगल के वैदिक मंत्र का जाप, हनुमद आराधना, मंगल से सम्बंधित दान व घर के पूजा स्थल में विधिपूर्वक मंगल यंत्र या हनुमान यन्त्र की प्राण प्रतिष्ठा कर स्थापना करें।

No comments:

Post a Comment