Search This Blog

Friday, 24 June 2011

लाल किताब में राहु का प्रत्येक भाव के लिए उपाय (Remedies of Rahu in Lal Kitab


 


लाल किताब के अनुसार ग्रह चाहे शुभ स्थिति में हो या अशुभ उसका उपाय करने से जहाँ उसके फल में स्थायित्व रहता (Result intact in Lal Kitab) हें, वही दूसरी तरफ अशुभ ग्रह का उपाय करने से उसके दूष्प्रभाव की शान्ति होती है. इस लेख के माध्यम से राहु ग्रह के प्रत्येक भाव मेँ स्थित होने पर उसके उपाय की जानकारी दी गई है.

प्रत्येक व्यक्ति जिनका राहु जिस-2 भाव में स्थित है वह यहाँ दी गई सूची के आधार पर उपाय कर सकता है.

प्रथम भाव में स्थित राहु के उपाय (Remedies of in Rahu first house)1) गले में चाँदी धारण करें।2) जौ दूध में धोकर जल में प्रवाहित करें।3) रात में सिरहाने सौंफ रखकर सोएं.4) गूड़ गेहुं ताम्बे का दान करें.

द्वितीय भाव में स्थित राहु के उपाय (Remedies of Rahu in second हाउस 1) ठोस चांदी अपने पास रखें।2) दो किलो सिक्के के टुकडे चलते पानी में डालें।3) चाँदी की गोली गले में पहनें.4) घर में मन्दिर की स्थापना न करें.

तृ्तीय भाव में स्थित राहु के उपाय (Remedies of Rahu in third house)1) हाथी का खिलौना घर में न रखें।2) हाती दाँन्त घर में न रखें.

चतुर्थ भाव में स्थित राहु के उपाय (Remedies of Rahu in fourth house1) गंगा जल से स्नान करें।2) चाँदी के चार गोली सफेद कपडा में बाँधकर अपने पास रखें.3) जौ में जौ से चार गुना दूध मिलाकर जल में प्रवाहित करें.4) माता की सेवा करें.

पंचम भाव में स्थित राहु के उपाय (Remedies of Rahu in fifth house) 1) हाथी दाँत घर में न रखें।2) चाँदी का हाथी चाँदी की कटोरी में जल डालकर रखें.3) भोजन रसोई घर में ही करें.4) अपनी पत्नी से दुबारा शादी करें.5) कीकर की दातुन करें.6) मीठी वाणी बोले.

छटे भाव में स्थित राहु के उपाय (Remedies of Rahu in sixth house)1) काले रंग का कुत्ता पालें।2) भाई को अपनी साथ रखें.3) सिक्के की गोली अपने पास रखें.4) शराब, अण्डा, मांस से परहेज करें.

सप्तम भाव में स्थित राहु के उपाय (Remedies of Rahu in seventh house1) चांदी का चौकर टुकडा़ अपनी जेब में रखें।2) कुत्ता पालें.3) किसी के साथ भी साझेदारी न करें.4) चार बोतल शराव खोलकर चलती पानी में डालें.5) अपने वजन के बराबर जौ दूध में धोकर चलते पानी में डालें.

अष्टम भाव में स्थित राहु के उपाय (Remedies of Rahu in eighth house)1) चाँदी का चौकोर टुकडा़ अपने पास रखें।2) रात को सिरहाने सौफ , देसी खाण्ड रखें.3) बेईमानी और गलत कामो से दूर रहें.4) बिजली के सामान का कारबार न करें.5) जल में सिक्का प्रवाहित करें.6) मन्दिर में बादाम चढाकर आधे घर में रखें, बाद में उसे बहते पानी में प्रवाहित करें.

नवम भाव में स्थित राहु के उपाय (Remedies of Rahu ninth house)1) पिता के साथ रहें व उनकी सेवा करें।2) ईमानदारि की कमाई खाएं3) कुत्ता पाले।4) ससुराल से अच्छे सम्बन्ध रखें.5) नीले व काले रंग का कपडा न दे.6) बिजली का सामान मुफ्त न लें.7) धर्म - कर्म करते रहें.

दशम भाव में स्थित राहु के उपाय (Remedies of Rahu in tenth house)1) सिर ढककर रखें।2) शराव, अण्डा, मांस सेवन न करें.]3) रात को दूध न पीये.4) अन्धों को अपने हाथ से भोजन खिलाएं.

एकादश भाव में स्थित राहु के उपाय (Remedies of Rahu in eleventh house)1) शराव, अण्डा, मांस से परहेज रहें।2) पिता की सेवा करें व उनके साथ रहें.3) सोना अपने पास रखें.4) जौ, सिक्का, नारियल बहते पानी में प्रवाहित करें.5) गरीबो को पैसा दान में देते रहें.6) निले रंग का कपडा़ ना पहने ना अपना पास रखें7) लोहे का कडा, छल्ला या चेन पहनें.8) मन्दिर में प्रतिदिन जाया करें.

द्वादश भाव में स्थित राहू के उपाय (Remedies of Rahu in twelveth house)1) नशीली वस्तुओं का सेवन न करें.2) रात में सिरहाने खाण्ड या सौफ रखकर सोएं.3) रसोई घर ही भी खाना खाएं.

इस प्रकार लाल किताब के अनुसार राहु के उपाय (Remedies of Rahu in Lal Kitab) करने से तुरन्त लाभ मिलता हैं।

नोट 1) एक समय में केवल एक ही उपाय करें.2) उपाय कम से कम 40 दिन और अधिक से अधिक 43 दिनो तक करें.3) उपाय में नागा ना करें यदि किसी करणवश नागा हो तो फिर से प्रारम्भ करें.4) उपाय सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक करें.5) उपाय खून का रिश्तेदार ( भाई, पिता, पुत्र इत्यादि) भी कर सकता है.

No comments:

Post a Comment