Search This Blog

Wednesday, 29 June 2011

उपाय



शारीरिक, पारिवारिक व आर्थिक समस्या समाधान हेतु
यदि आपका कार्यक्षेत्र न्यायपालिका से जुड़ा हो, आप वहां पर क्लर्क हैं, चपरासी हैं, वकील हैं या न्यायाधीश हैं और आपको जीवन में अप्रत्याशित समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। आपको आर्थिक, पारिवारिक व शारीरिक समस्याओं से जूझना पड़ रहा है और कार्य में सफलता नहीं मिल रही हो तो 2 मुखी रुद्राक्ष, 4 मुखी रुद्राक्ष, 7 मुखी रुद्राक्ष और 14 मुखी रुद्राक्ष लाल धागे में गूंथकर धारण करना बहुत ही अनुकूल और शुभ फल दायक होता है।हाथ से खिलाएं तो घर में शांति आ जायेगी। ऐसा 43 दिन नियमित रूप से करें।

व्यवसायिक परेशानी का निवारण
रवि पुष्य योग के दिन नित्यकर्म से निवृत होकर स्नानोपरांत अपने पूजा स्थान में लक्ष्मी बीसा यंत्र एवं कुबेर यंत्र की श्रद्धापर्वूक स्थापना करने के उपरांत धूप, दीप, नैवेद्य, पुष्प और अक्षत से पंचोपचार पूजन करें। तत्पश्चात शुद्ध आसन बिछाकर स्फटिक की माला पर 11 माला इस ॐ यक्षाय कुबेराय वैश्रवणाय धन धान्यादि पताये धन धान्य समृद्धि में देही दापय दापय स्वाहा मंत्र की जाप करें। संपूर्ण व्यावसायिक परेशानियों का निवारण होगा। हर रोज इस मंत्र की सुबह-शाम एक माला जाप करने से अवश्य धन में वृद्धि होगी।

कार्य बाधा निवारण हेतु
संपूर्ण प्रयासों के बावजूद कार्यों में अप्रत्याशित बाधा आ रही हो तो मंगलवार के दिन स्नानोपरांत किसी स्वच्छ मिट्टी के पात्र में श्रद्धानुसार मशरूम भरकर अपने ऊपर से 11 बार उसार कर किसी एकांत जगह में चुपचाप रखकर आने से सभी प्रकार की कार्य बाधा दूर हो जाएगी।

परिवार में सुख-शांति हेतु
यदि आपके घर में पारिवारिक सदस्यों के अक्खड़ स्वभाव के कारण नित्य कलह हो रहा हो, हर कोई मार-पीट करने के लिए उतारू हो, आपसी वैमनस्यता के कारण पारिवारिक सदस्य साथ नहीं बैठ पा रहे हों तो यह उपाय करें। रविवार के दिन 7 गोबर के दीपक में तिल का तेल भरकर प्रज्वलित कर लें। उसमें एक-एक डली गुड़ के डाल दें और पारिवारिक सदस्यों के ऊपर से 7 बार उसार करके इन दीपकों को घर की मुख्य चौखट के सामने रख दें। परिवार में सुख-शांति रहेगी और कष्टों से छुटकारा मिल जाएगा।

बुरी नजर से बचाव हेतु
यदि आपके परिवार में हमेशा कलह रहता हो पारिवारिक सदस्य सुख-शांति से न रहती हों तो शनिवार के दिन सुबह काले कपड़े में जटा वाले नारियल को लपेटकर उस पर काजल की 21 बिंदी लगा लें। और घर के बाहर लटका दें। हमेशा घर बुरी नजर से बच कर रहेगा और हमेशा सुख-शांति रहेगी।

काम में मन लगाने के लिए
यदि आपका मन काम में नहीं लग रहा हो, हमेशा आलस्य रहता हो तो शनिवार के दिन यह उपाय करें: मिट्टी के सात सकोरे में देसी गाय का कच्चा दूध भरे। अपने ऊपर से सात बार उसार कर यह दूध किसी कुत्ते को पिला दें। इस परेशानी से छुटकारा मिल जाएगा।

व्यवसायिक समस्याओं के निवारण हेतु
व्यवसायिक समस्याओं के निवारण के लिए व्यवसायिक सात दाने फिटकरी के, सात साबुत नमक की डली, सात देसी चने के दाने अपने दुकान में खड़े होकर के अपने ऊपर से 21 बार उसारे और अपने व्यवसायिक स्थल से बाहर किसी तिराहे पर जाकर दक्षिण दिशा की ओर उछाल दें। बिना पीछे देखे अपने व्यावसायिक स्थल पर लौट आएं। समस्याओं का निवारण होगा।

पढ़ाई में मन लगाने हेतु
आपके बच्चे का मन पढ़ाई में नहीं लग रहा हो, हमेशा इधर-उधर भटकता फिरता है, न समय पर सोता है, न समय पर खाता है, बहुत ज्यादा जिद्द करता है तो ऐसी अवस्था में शनिवार के दिन 7 लाल मिर्च, 7 चुटकी अजवायन, 7 काली मिर्च, 21 दानें पीली सरसों किसी मिट्टी के पात्र में आग जलाकर उसमें डाल दें। उस पात्र को अपने बच्चे के ऊपर से 7 बार उसारे और उसका धुआं भी बच्चे को दिखाएं ऐसा लगातार 7 दिन करने से परेशानियों से छुटकारा मिल जाएगा।

व्यापारिक समस्याओं का निवारण
किसी भी महीने की शुक्ल पक्ष की अष्टमी के दिन प्रात:काल नित्यकर्म से निवृत होकर स्नानोपरांत पीले कपड़े में हल्दी से रंगे हुए सात मुट्ठी पीले चावल, सात गोमती चक्र, सात कौड़ी रखकर उसको पोटली बना दें। पोटली के ऊपर हल्दी, कुंकुम और केसर से सात स्वास्तिक बनाएं। तत्पश्वचात इस पोटली को लेकर संपूर्ण घर की परिक्रमा करते हुए घर से बाहर निकल जाए और किसी बहते पानी में या सरोवर या तालाब में प्रवाह कर दें। व्यापारिक समस्याओं का निवारण हो जाएगा।

भय निवारण
यदि आपका छोटा बच्चा रात में हमेशा डरता है या अनावश्यक रोता है तो बच्चे के सिरहाने पर हरे कपड़े में 7 डली फिटकरी बांधकर रख दें। उसे रात में डर नहीं लगेगा। सुबह उस फिटकरी को तालाब में प्रवाह कर दें।

No comments:

Post a Comment