Search This Blog

Tuesday, 28 June 2011

18 साल के बाद 18 महीनें के लिए राहु का महा परिवर्तन योग


राहु 18 साल के बाद मंगल की राशि वृश्चिक में प्रवेश
और इस राशि में राहु 18 महीनें तक रहेगा।
राहु से सूर्य मंगल केतु और शुक्र का समसप्तक योग
राहु और शनि का त्रिएकादश योग
राहु और बृहस्पति का षडाष्टïक योग
    मैदिनी ज्योतिष ग्रह गणना अनुसार इस समय जिस तरह के ग्रह योगायोग है ये 30 जुलाई तक अनुकूलता का संकेत नहीं दे रहे हैं।
इस समय जबरदस्त राजनीतिक उठा-पटक परिवर्तन की संभावना है।
सत्ता और विपक्ष में टकराव बढ़ेगा।
राजनीतिक नये समीकरण बनेंगे।
संवेदनशील विषयों पर असंवेदनशील टिप्पणी एवं बयानबाजी से बखेड़ा खड़ा होगा।
प्राकृतिक प्रकोप की घटनाएं बढ़ेगी।
हवा, आंधी-तूफान, अग्नि के साथ-साथ पानी से भी नुकसान की संभावना नजर आ रही है।
सडक़, रेल और हवाई की दुर्घटना पुन: नजर आ रही है।
भूकंप, भूसंख्लन, बाढ़ जैसी घटनाओं में बढ़ोतरी होगी।
पूरा विश्व आतंकवाद से जूंझता हुआ नजर आएगा।
बृहस्पति और राहु का षडाष्टïक योग धर्म को लेकर उठा-पटक का संकेत भी दे रहा है।
धर्म पर किये गये अर्नगल बयानबाजी से सांप्रदायिक सौह्रïार्द की भी कमी नजर आ रही है।
मैदिनी ज्योतिष मुख्य रूप से यह संकेत दे रही है संपूर्ण पक्ष और विपक्ष के राजनेताओं को एवं प्रमुख व्यक्तियों को वाणी में संयम और शालीनता का परिचय देना राष्टï्र के हित में देना अति आवश्यक होगा।
होरा शास्त्र के अनुसार द्वादश राशियों पर राहु के राशि परिवर्तन का प्रभाव
राहु अकस्मात और अचानक फल प्रदान करता है। और यह बारह की बारह राशियों को कुछ लेगा और देगा भी अवश्य।
मेष राशि
मेष राशि वालों के लिए राहु अष्टïम भाव में प्रवेश करेगा।
और यह परिवर्तन मेष राशि वालों के लिए मनोनुकूल रहेगा।
अकस्मात व्यापार में लाभ होगा।
धन वृद्घि के अवसर बढ़ेगे।
व्यापारिक संबंधों में प्रगाढ़ता आएगी।
आय के नये साधनों की प्राप्ति का प्रबल योग।
सावधानी
पारिवारिक मतभेद से बचना होगा।
विवादित भूमि संबंधी सौदों से दूर रहना होगा।
क्रोध और हठधर्मिता नुकसान का कारण बनेगी।
वृषभ राशि
वृषभ राशि वालों के लिए राहु सप्तम भाव में प्रवेश करेगा।
वृषभ राशि वालों के लिए यह कॅरियर संबंधी परेशानियों का निवारण होगा।
बेरोजगारों को रोजगार मिलेगा।
सरकार से लाभ मिलेगा।
मित्रों का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा।
यात्राएं मनोनुकूल रहेगी।
सावधानी
अनावश्यक शत्रुता से बचें।
कार्य परिवर्तन और स्थान परिवर्तन से बचें।
पित्तदोष संबंधी बीमारी से सावधान।
मिथुन राशि
मिथुन राशि वालों के लिए राहु छठे भाव में प्रवेश करेगा।
छठे भाव में राहु मनोनुकूल और लाभदायिक फल प्रदान करेगा।
उन्नति के अवसर प्राप्त होंगे।
मनोनुकूल प्रमोशन और स्थान परिवर्तन का योग।
मनोअभिलाषाएं पूरी होंगी।
अनावश्यक बीमारियों से पीछा छुटेगा।
शत्रुओं पर विजय होगी।
सावधानी
बुरे व्यसन दु:खों के कारण बनेंगे।
आंखों संबंधी तकलीफ में सावधानी बरतें।
मान-सम्मान के प्रति सजग रहें।
कर्क राशि
कर्क राशि वालों के लिए राहु पाचवें भाव में प्रवेश करेगा।
त्रिकोण भाव में राहु अनुकूल और लाभदायक फल प्रदान करेगा।
लेन-देन के मसलें निपटेंगे।
कारोबारी समस्याओं का निवारण होगा।
अकस्मात धन कोष में वृद्घि होगी।
शेयर मार्किट में लाभ।
धन और ऐश्वर्य का संपूर्ण सुख प्राप्त होगा।
सावधानी
व्यर्थ की मानसिक चिंताओं से सावधान रहें।
स्त्रियों से अपमान का भय हो सकता है।
संतान संबंधी परेशानी भी रह सकती है।
सिंह राशि
सिंह राशि वालों के लिए राहु चौथे भाव में प्रवेश करेगा।
सिंह राशि वालों के लिए राहु का परिवर्तन सामान्य रहेगा।
लाभ प्राप्ति के लिए कठिन परिश्रम करना पड़ेगा।
परिश्रम के अनुकूल फल की प्राप्ति होगी।
बुजुर्गों की सेवा का अवसर प्राप्त होगा।
संतान पक्ष से विशेष लगाव रहेगा।
सावधानी
प्रतिकूल आवास परिवर्तन की संभावना।
जन्म भूमि से दूर जाना पड़ सकता है।
सरकारी अफसरों से विरोध।
जमीन जायदाद के मसलें परेशानी दे सकते हैं।
कन्या राशि
कन्या राशि वालों के राहु तीसरे भाव में प्रवेश करेगा।
कन्या राशि वालों के यह राशि परिवर्तन शुभ और अनुकूल रहेगा।
संपूर्ण महत्वाकांक्षाओं की पूर्ति होगी।
कारोबारी समस्याओं का निवारण होगा।
कारोबार के एक से अधिक साधन उपलब्ध होंगे।
अनावश्यक भय, भ्रांति और भ्रम से छुटकारा मिलेगा।
घर में मांगलिक कार्य संपन्न होगा।
सावधानी
लंबी यात्राओं से बचें।
छोटे भाई-बहनों से बनाकर रखें।
नौकरी में अपने बॉस का विरोध नहीं करें।
तुला राशि
तुला राशि वालों के लिए राहु दूसरे भाव में प्रवेश करेगा।
तुला राशि वालों के लिए यह राशि परिवर्तन मध्यम रहेगा।
हल्की सी चूक नुकसान का कारण बन सकती है।
जिस तरह के ग्रह योगायोग है कारोबार में अनावश्यक परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।
मानसिक तनाव परेशानी का कारण बनेगा।
बनते हुए कामों में रुकावट।
और स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।
सावधानी
अनैतिक कार्यों से दूर रहें।
दैनिक दिनचर्या नियमित रखें।
खान-पान के प्रति सजग रहें।
वृश्चिक राशि
वृश्चिक राशि वालों के लिए राहु लग्न भाव में गोचर कर रहा है।
वृश्चिक राशि वालों के लिए यह राशि परिवर्तन लाभदायक रहेगा।
व्यापार में वृद्घि होगी।
व्यवसायिक नवीन योजनाएं बनेगी।
मनोनुकूल लाभ की प्राप्ति होगी।
सामाजिक मान-सम्मान और सुयश में बढ़ोतरी होगी।
सावधानी
मानसिक चिंताओं को हावी नहीं होने दें।
निराशाओं से दूर रहें।
क्रोध और चिड़चिड़े स्वभाव पर नजर रखें।
धनु राशि
धनु राशि वालों के लिए राहु बारहवें भाव में गोचर कर रहा है।
धनु राशि वालों के लिए यह राशि परिवर्तन मनोनुकूल रहेगा।
अनावश्यक खर्चों से मुक्ति मिलेगी।
पिछली समस्याओं से छुटकारा मिलेगा।
ऋण से छुटकारा मिलेगा।
सावधानी
विवादित सौदों से बचना।
संतान पक्ष को लेकर सावधान रहना।
कानून से खिलवाड़ नुकसान दे सकती है।
मकर राशि
मकर राशि वालों के लिए राहु ग्यारहवें भाव में गोचर कर रहा है।
मकर राशि वालों के लिए यह राशि परिवर्तन बहुत शुभ व लाभदायक रहेगा।
कारोबार में मनोनुकूल परिस्थितियां बनेगी।
कारोबार में किये गये प्रयास मनोनुकूल फल प्रदान करेंगे।
धन लाभ की प्राप्ति होगी।
आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी।
पारिवारिक समस्याओं का निवारण होगा।
परीक्षा और प्रतियोगिता में सफलता मिलेगी।
सावधानी
जीवन साथी के साथ विश्वासघात नहीं करें।
संतान पक्ष से विशेष सावधान रहें।
बुजुर्गों की सलाह नजर अंदाज नहीं करें।
कुंभ राशि
कुंभ राशि वालों के लिए राहु दसवें भाव में गोचर कर रहा है।
कुंभ राशि वालों के लिए यह राशि परिवर्तन ठीक रहेगा।
नौकरी में किये गये प्रयास सफल होंगे।
व्यवसाय में लाभ प्राप्त होगा।
अध्यात्म उन्नति के अवसर मिलेंगे।
अकस्मात धन और व्यवसाय में वृद्घि होगी।
मान-सम्मान की प्राप्ति होगी।
सावधानी 
शत्रु से सावधान रहें।
नौकरी और व्यवसाय में अंधा विश्वास नहीं करें।
चल और अचल संपत्ति खरीदते समय विशेष सावधानी बरतें।
मीन राशि
मीन राशि वालों के लिए राहु नौवें भाव में गोचर कर रहा है।
मीन राशि वालों के लिए यह राशि परिवर्तन लाभदायक रहेगा।
किये गए प्रयासों में आशातीत लाभ की प्राप्ति होगी।
पुराने मित्रों से मिलन होगा और उनके सहयोग से लाभ प्राप्त होगा।
सावधानी
स्वास्थ्य के प्रति सावधानी बरतें।
भाई-बहनों के संबंधों को लेकर लापरवाही नहीं बरतें।
कुसंगति नुकसान का कारण बन सकती है।
राहु के यह उपाय बदल देंगे आपका भाग्य
मेष राशि
1. चांदी की छोटी सी दो बायी दो इंच की ईंट अपने घर के ईशान कोण में रखें।
2. 8 शीशे यानी रांगा के सिक्के लगातार 40 दिन बहते पानी में प्रवाह करें।
वृषभ राशि
1. पानी वाला नारियल अपने ऊपर से सात बार उसार करके बहते पानी में प्रवाह करें।
2. 8 बादाम मंदिर में चढ़ाएं।
मिथुन राशि
1. रांगे की एक गोली 18 महीने अपने पास रखना श्रेष्ठï होगा।
2. मां सरस्वती के श्रीचरणों में नीले फूल चढ़ाना लाभदायक रहेगा।
कर्क राशि
1. घर की दहलीज के नीचे चांदी का पत्रा लगाना ठीक रहेगा।
2. रात में सोते समय पांच मोली सिराहने रखें और सुबह उसे मंदिर में दान दे दें।
सिंह राशि
1. 400 ग्राम धनिया बहते पानी में प्रवाह करें।
2. चांदी का बिना जोड़ का छल्ला कनिष्ठïा अंगुली में धारण करें।
कन्या राशि
1. पीपल के वृक्ष में लगातार 40 दिन जल अर्पित करें और सात परिक्रमा करें।
2. किन्नर को हरी वस्तुओं का दान देना अति शुभ होगा।
तुला राशि
1. श्रद्घानुसार कच्चे कोयले 27 दिन बहते पानी में प्रवाह करें।
2. कुत्ते को हर रोज अपने हाथ से रोटी खिलाएं।
वृश्चिक राशि
1. गले में चांदी की चेन धारण करें।
2. तांबे के पात्र में श्रद्घानुसार गेहूं और गुड़ भरकर बहते जल में प्रवाह कर दें।
धनु राशि
1. रात को सोते समय एक मु_ïी सौंफ पीले कपड़े में बांधकर सिरहाने रखें और सुबह मंदिर में रख दें।
2. चांदी का चौरस टुकड़ा गले में धारण करना अति शुभ रहेगा।
मकर राशि
1. बृहस्पतिवार के दिन पीले कपड़े में 9 हल्दी की गांठ बांधकर मंदिर में दान दे दें।
2. केसर का तिलक करें।
कुंभ राशि
1. 40 दिन श्रद्घानुसार जौ हर रोज गौशाला या गरीब आदमी को दान दें।
2. नीले और काले रंग के वस्त्रों का प्रयोग अवश्य करें।
मीन राशि
1. गले में सोना धारण करें।
2. सरसों की खली या सरसों का तेल गरीब व जरूरतमंद व्यक्ति को दान में दे।


No comments:

Post a Comment